पूरे बुंदेलखंड में जोरदार प्रदर्शन

हमीरपुर। भुखमरी,बेरोजगारी एवं अशिक्षा का दंश झेल रहे बुंदेलखंड को बदलने की युवाओं ने अब मन में ठान ली है। आज वीरांगना लक्ष्मीबाई जी के शौर्य दिवस के अवसर पर बुंदेलखंड नव निर्माण सेना के बैनर तले युवाओं ने बुंदेलखंड के लिये हुँकार भरी।

Hamirpur: On the birth anniversary of Veerangana, youth shouted for the demand of saving Bundelkhand separate state and Bakswaha forest.

बुंदेलखंड नव निर्माण सेना के अध्यक्ष विनय तिवारी ने जानकारी देते हुये बताया कि वीरों की धरती रही बुंदेलखंड को मौजूदा समय में सिर्फ छलावा करके लूटा जा रहा है।यहाँ पाये जाने खनिजों का दोहन करके अपना उल्लू सीधा किया जा रहा है। बुंदेलखंड में कई इलाकों में विकास की बात बेमानी है क्योंकि लोंगो को मूलभूत सुविधाओं के लिये ही जूझना पड़ रहा है।आज वीरांगना लक्ष्मीबाई जी के शौर्य दिवस पर महामहिम राष्ट्रपति को बुंदेलखंड पृथक राज्य व बुंदेलखंड की पर्यावरण संपदा बकस्वाहा को बचाने के बाबत एक ज्ञापन प्रदेश मीडिया प्रभारी जयशंकर त्रिपाठी के नेतृत्व में उपजिलाधिकारी राठ को सौंपा गया है।

Hamirpur: On the birth anniversary of Veerangana, youth shouted for the demand of saving Bundelkhand separate state and Bakswaha forest.

जिसमें माँग की गयी है कि बुंदेलखंड को जल्द से जल्द से पृथक राज्य का दर्जा दिया साथ ही बकस्वाहा जंगल की जो जमीन लीज पर दी गयी उस फैसले को तुरंत वापिस लिया जाये। उन्होंने आगे बातचीत में बताया कि इन्हीं समस्याओं को लेकर आज केंद्रीय में एक दिवसीय आमरण अनशन भी दिया है अगर इन माँगों को नहीं माना जाता है तो आगे बुंदेलखंड नव निर्माण सेना बढ़ा आंदोलन करेगी।वहीं बुंदेलखंड नव निर्माण सेना के विभिन्न पदाधिकारियों द्वारा कई जनपदों में प्रदर्शन करके ज्ञापन सौंपे गये है।कार्यक्रम में मुख्य रूप से सतीश त्रिपाठी,रघुवीर सहाय ,विजय यादव,अतुल श्रीवास,राहुल नामदेव, घनश्याम विश्वकर्मा,नितिन गुप्ता सहित सैकड़ों कार्यकर्ता उपस्थित रहे।

(जिला संवाददाता ब्रजेश ओझा)

About Author

admin

You cannot copy content of this page