हमीरपुर। जनपद के अस्थाई गौ आश्रय स्थलों के प्रबंधन संचालन एवं भरणपोषण के सम्बंध में एक आवश्यक बैठक जिलाधिकारी डॉ ज्ञानेश्वर त्रिपाठी की अध्यक्षता में कलेक्ट्रेट सभागार कक्ष में संपन्न हुई।बैठक में जिलाधिकारी ने कहा कि अन्ना पशुओं के सड़कों पर घूमने से दुर्घटनाएं हो रही हैं जिससे लॉ एंड ऑर्डर की समस्या उत्पन्न होती है अतः सड़कों पर किसी भी दशा में अन्ना गोवंश इधर-उधर घूमते नहीं पाए जाने चाहिए,उनकी देखरेख में चरवाहे अनिवार्य रूप से लगे होने चाहिए तथा उनका समय से भुगतान हो जाना चाहिए अन्यथा की स्थिति में संबंधित पशु चिकित्साधिकारी,ग्राम पंचायत सचिव,एडीओ पंचायत एवं बीडीओ सहित अन्य सभी संबंधित की जिम्मेदारी तय होगी,तदनुसार कार्रवाई की जाएगी ।

उन्होंने कहा कि समस्त एसडीएम द्वारा गोवंश संरक्षण के संबंध में तहसील स्तरीय अनुश्रवण समिति की नियमित रूप से बैठक कर उसकी अच्छे ढंग से मॉनिटरिंग करें।जिलाधिकारी ने कहा कि अस्थाई गौ आश्रय स्थलों के प्रबंधन हेतु जो धनराशि दी गई है उसका उपभोग कर उपभोग सर्टिफिकेट शीघ्र दे दिया जाए ताकि भरण पोषण हेतु आगे के लिए धनराशि स्वीकृत की जा सके।

कहा कि अन्ना गोवंशों का संरक्षण शासन की प्राथमिकता में शामिल है अतः इसमें कोई लापरवाही न बरती जाए। जिलाधिकारी ने कहा कि सभी नोडल अधिकारी भ्रमण कर गौशाला की विभिन्न व्यवस्थाओं बजट की उपलब्धता,चारा,पानी की व्यवस्था,भूसा बैंक की व्यवस्था,चरवाहों की स्थिति,बधियाकरण, गौशालाओं में वृक्षारोपण एवं चारा विकास एवं कंपोस्ट पिट की व्यवस्था की जांच कर उसके संबंध में रिपोर्ट दी जाए। जिलाधिकारी ने कहा कि सहभागिता योजना के अंतर्गत अन्ना गौवंश को गोद में लेने हेतु लोगों को प्रोत्साहित किया जाय,इसका समय से भुगतान किया जाए।

जिलाधिकारी ने कहा कि पशुपालन विभाग द्वारा अन्ना पशुओं की ईयर टैगिंग,टीकाकरण ,बधियाकरण की प्रगति में सुधार लाया जाए तथा कोई भी पशु की मृत्यु होने पर उसका समयबद्ध एवं समुचित ढंग से निस्तारण किया जाए। उन्होंने कहा कि बरसात के दृष्टिगत गौआश्रय स्थलों में भूसा खुले में ना रखा जाए अतः उसकी ठीक ढंग से व्यवस्था की जाए।इस मौके पर मुख्य विकास अधिकारी कमलेश कुमार वैश्य,अपर जिलाधिकारी विनय प्रकाश श्रीवास्तव,ज्वाइंट मजिस्ट्रेट/ एसडीएम सदर संजय कुमार मीणा,अपर पुलिस अधीक्षक, समस्त एसडीएम,बीडीओ, मुख्य पशु चिकित्साधिकारी,मुख्य चिकित्सा अधिकारी डॉ राजकुमार सचान,अपर मुख्य चिकित्सा अधिकारी डॉ पी के सिंह,डीपीआरओ तथा अन्य संबंधित मौजूद रहे ।

जिला संवाददाता ब्रजेश ओझा

About Author

admin

You cannot copy content of this page