वाराणसी: दिल्ली से वाराणसी के बीच हाई स्पीड रेल चलाने की तैयारी शुरू कर दी गई है. यमुना एक्सप्रेस-वे, आगरा-लखनऊ एक्सप्रेस-वे और गंगा एक्सप्रेस-वे के किनारे एलिवेटेड ट्रैक पर यह ट्रेन दौड़ेगी. मथुरा जनपद की सीमा में यमुना एक्सप्रेसवे के किनारे लगभग 100 किलोमीटर तक हाई स्पीड ट्रेन दौड़ेगी.

प्रोजेक्ट के लिए 75 फीसदी जमीन मौजूद
इस हाई स्पीड ट्रेन के लिए एक्सप्रेस-वे के किनारे सर्विस रोड या फिर डिवाइडरों पर जरूरत के मुताबिक एलिवेटेड ट्रैक तैयार किया जाएगा. इसकी तैयारियों के तहत नोएडा में एक बैठक हुई, जिसमें प्रोजेक्ट का प्रेजेंटेशन दिया गया. यह प​हले ही क्लियर हो चुका है कि दिल्ली-वाराणसी हाई स्पीड रेल कॉरिडोर को विकसित करने के लिए 75 फीसदी सरकारी जमीन मौजूद है. सिर्फ 25 फीसदी जमीन ही अधिग्रहित करनी पड़ेगी.

नोएडा में इस ट्रेन के 2 स्टॉपेज बनाए होंगे
मथुरा में यमुना एक्सप्रेस-वे प्राधिकरण के पास अपनी जमीन मौजूद है, इसलिए इस जिले में किसानों की जमीन शायद ही कहीं ली जाएगी. दिल्ली-वाराणसी हाई स्पीड रेल कॉरिडोर की कार्यदायी संस्था नेशनल हाई स्पीड रेल कॉरपोरेशन लिमिटेड (NHSRCL) नामक कंपनी है. यह ट्रेन दिल्ली के सराय काले खां से चलेगी, जिसका पहला स्टॉपेज नोएडा का 148 सेक्टर रहेगा. दूसरा स्टेशन जेवर स्थित एयरपोर्ट होगा.

जेवर एयरपोर्ट के पास बनेगा एक स्टेशन
तीसरा स्टेशन मथुरा जनपद की सीमा में यमुना एक्सप्रेस-वे के राया इंटरचेंज के पास तैयार किया जाएगा. चौथा स्टेशन आगरा में लखनऊ-आगरा एक्सप्रेस-वे के मुहाने पर बनेगा. इस परियोजना से जुड़े पर्यावरणीय बिंदुओं के संबंध में प्रेजेंटेशन नोएडा में वहां के अपर जिलाधिकारी प्रशासन दिवाकर सिंह की अध्यक्षता में हुआ है. उन्होंने बताया कि काश्तकारों को बुलाकर उनको प्रोजेक्ट की जानकारी दी गई है. NHSRCL विभिन्न बिंदुओं पर विचार कर सरकार को अपनी रिपोर्ट सौंपेगा.

इन शहरों में पड़ेगा हाई स्पीड ट्रेन का स्टेशन
इस हाई स्पीड ट्रेन के अगले स्टेशन कानपुर, लखनऊ, रायबरेली, प्रयागराज, संतरविदास नगर, मिर्जापुर और वाराणसी में होंगे. वाराणसी के मंडुआडीह में ट्रेन का अंतिम स्टॉपेज होगा. दिल्ली-वाराणसी हाई स्पीड रेल कॉरिडोर का काम चार अलग-अलग चरणों में पूरा होगा. चार कंपनियों को अलग-अलग काम दिया जाएगा. पहला चरण दिल्ली से आगरा तक, दूसरा चरण आगरा से लखनऊ तक, तीसरा चरण लखनऊ से प्रयागराज तक और अंतिम चरण प्रयागराज से वाराणसी तक होगा.

दिल्ली से वाराणसी 3 घंटे 41 मिनट में पहुंचेंगे
हाई स्पीड ट्रेन दिल्ली के सराय काले खां से 62 किलोमीटर की दूरी पर बन रहे जेवर एयरपोर्ट तक 21 मिनट में सफर तय करेगी. जेवर एयरपोर्ट से राया कट तक 20 मिनट में पहुंचेगी. इसी तरह राया कट से दिल्ली तक 35 मिनट के अंदर पहुंचा जा सकेगा. दिल्ली से लखनऊ 2 घंटे 50 मिनट और दिल्ली से वाराणसी तक 3 घंटे 41 मिनट का समय लगेगा. इस ट्रेन से दिल्ली से आगरा तक सफर करने में 33 मिनट का समय लगेगा, जबकि आगरा से मथुरा तक 14 मिनट के अंदर पहुंचा जा सकेगा.

सौजन्य : ज़ी मीडिया

About Author

admin

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You cannot copy content of this page