मऊ। विधायक निधि का दुरुपयोग करने के मामले में सरायलखंसी थाने में पुलिस ने एक मामला दर्ज किया। इसमें मुख्तार अंसारी के साथ चार लोगों को नामजद किया गया है। इसमें नामजद लोगों पर बिना निर्माण कराए विधायक निधि से 25 लाख लेने और मुख्तार पर निधि का रुपया देने का आरोप लगाया गया है।

अपर पुलिस अधीक्षक ने बताया‌ की विधायक निधि का दुरुपयोग करने के मामले में अंतरराज्यीय गैंग आईएस-191 के सरगना मुख्तार अंसारी और उनके निकट सहयोगी आनंद यादव, बैजनाथ यादव, संजय सागर को नामजद करते हुए सरायलखंसी थाने में धोखाधड़ी सहित अन्य धाराओं में रिपोर्ट दर्ज कराई गई है। पुलिस के अनुसार आनंद यादव और उसके पिता बैजनाथ यादव ने मुख्तार अंसारी और संजय सागर के ईशारे पर फर्जी दस्तावेज तैयार करके ग्राम समाज की जमीन को अपने नाम करा लिया।

 

इसके बाद उस पर गुरु जगदीश सिंह बैजनाथ पहलवान उच्चतर माध्यमिक विद्यालय सरवां के नाम पर स्कूल खोला। यह स्कूल सरवां गांव के आराजी संख्या 1109 पर रकबा 0.064 हेक्टेयर आराजी संख्या -1449 रकबा 0.196 हेक्टेयर पर स्थापित है।

 

साथ ही विधायक मुख्तार अंसारी की निधि से वर्ष 2006-2007 से वर्ष 2017-2018 के बीच पचीस लाख रुपया दिया गया। जबकि हकीकत में विद्यालय का निर्माण ही नहीं किया गया है। आरोप है कि बैजनाथ यादव ने प्रधान रहते हुए अपनी पत्नी के नाम से अवैध तरीके से प्रस्ताव पारित कर समाज की भूमि को कृषि कार्य के लिए आवंटन करा लिया। इस संबंध में सरासलखंसी थाने में धोखाधड़ी सहित अन्य धाराओं में रिपोर्ट दर्ज कराई गई|

About Author

admin

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You cannot copy content of this page