बांदा। एक सप्ताह पहले प्रेमी के साथ गई युवती की लाश कल पुलिस ने बरामद की थी। उसके सिर को कूंच कर पहचान मिटाने की कोशिश की गई थी लेकिन मौके पर मिले डाक्यूमेंट्स से शव की शिनाख्त हुई। बाद में कराए गए पोस्टमार्टम में दुष्कर्म की पुष्टि नहीं हुई। इस मामले में प्रेमी के खिलाफ मुकदमा पंजीकृत किया गया है।

ये भी पढ़ें : बांदा : अमन हत्याकांड की सीबीआई की जांच हो : अखिलेश यादव

इस बारे में क्षेत्राधिकारी नरैनी नितिन कुमार ने बताया कि परिजनों द्वारा दी गई तहरीर में किसी तरह दुष्कर्म का आरोप नहीं लगाया गया अब तक की विवेचना, परिजनों की तहरीर व पोस्टमार्टम आदि से अभी तक दुष्कर्म का मामला प्रकाश में नहीं आया है।महिला संबंधी प्रकरण की संवेदनशीलता को देखते हुए मेडिकोलीगल परीक्षण, वीडियोग्राफी कराते हुए डॉक्टर के पैनल द्वारा पोस्टमार्टम कराया गया है। विवेचना में किसी प्रकार की तकनीकी एवं साक्ष्य न छूटे, इसके लिए स्लाइड बनवाई गई है एवं डीएनए नमूना भी संरक्षित कराया गया है।

ये भी पढ़ें : बांदा : जो लैपटॉप, स्मार्टफोन नहीं चला सकता वह छात्र-छात्राओं को स्मार्टफोन क्या देंगे : अखिलेश यादव

बताते चलें कि गिरवां थाना क्षेत्र के सहेवा के राजेंद्र वर्मा की 18 वर्षीय बेटी बंदना 6 दिन पहले लापता हुई थी। परिजनों का आरोप है कि अतर्रा थाना क्षेत्र के अनुथुआ गांव का निवासी अभिषेक उसे बहला-फुसलाकर ले गया था और 6 दिन बाद खुरहण्ड चौकी के समीप पहाड़िया दाई के पीछे खेत में लड़की का शव मिला था।शव के पास मृतका का आधार कार्ड मिला जिसके आधार पर मृतका की शिनाख्त हुई ।फिलहाल आरोपी युवक फरार बताया जा रहा है।

About Author

admin

You cannot copy content of this page