वाशिंगटन। दुनिया के कुछ देशों में कोरोना वायरस के नया वेरिएंट मिलने से महामारी के फिर से लौटने का खतरा बढ़ गया है। कोरोना वायरस का नया वेरिएंट ब्रिटेन और पाकिस्तान में मिला है। वहीं, चीन में कोरोना के नए केस और रूस में महामारी के विकराल होने से खतरा और बढ़ गया है। अमेरिका में कोविड मरीजों की बड़ी संख्या में मौत हो रही है।

ब्रिटेन में कोरोना संक्रमितों की संख्या में तेज गति से इजाफा हो रहा है। ब्रिटेन में एक दिन में 52,009 संक्रमित मरीज मिल हैं, जबकि 115 लोगों की मौत हो गई है। बीते 17 जुलाई के बाद संक्रमण के मामले 50 हजार के आंकड़े को पार कर गया है। ब्रिटेन में अब तक महामारी से 139,146 लोग जान गंवा चुके हैं। वहीं ब्रिटेन में कोरोना का नया वैरिएंट मिला है। इसे एवाई.4.2 नाम दिया गया है।

ये भी पढ़ें : देश ने रचा इतिहास, टीके लगाने का आंकड़ा 100 करोड़ के पार

रिपोर्ट के मुताबिक ब्रिटेन में डेल्टा के ई-484के और ई-484क्यू वेरिएंट के भी नए केस सामने आ रहे हैं। ब्रिटिश प्रधानमंत्री बोरिस जानसन ने शुक्रवार को राष्ट्रीय लॉकडाउन की जरूरत से इनकार किया है।

पाकिस्तान में कोरोना के नए खतरनाक वेरिएंट मिला है। इस वेरिएंट को एप्सीलोन नाम दिया गया है। इस वेरिएंट का पहला केस केलीफार्निया में सामने आया था। इसको केलीफार्निया वेरिएंट बी.1.429 नाम दिया गया था। इस वेरिएंट के मामले ब्रिटेन समेत दूसरे यूरोपीय देशों में भी सामने आए थे। इस इस वेरिएंट ने पाकिस्तान में इमरान सरकार की चिंता बढ़ा दी है।

ये भी पढ़ें : बाँदा : अमन की संदिग्ध हत्या का कौन सम्राट हैं- मित्रमण्डली, प्रशासन या राजनीति

वहीं, रूस में बीते 24 घंटों के दौरान कोरोना संक्रमण के 37,141 मामले सामने आए हैं जबकि 1064 लोगों की मौत हो गई। रूस में महामारी से एक दिन में मरने वालों का यह नया रिकॉर्ड है। रूस में संक्रमितों की संख्या 8,168,305 हो गई है, जबकि महामारी से 228,453 लोगों की मौत हो चुकी है।

चीन में दोबारा कोरोना संक्रमण के नए मामले आने के बाद यहां एक बार फिर से महामारी फैलने की आशंका है। वहीं, पांचवें दिन नए मामले पाए जाने के बाद स्कूलों और हवाई यातायात को बंद कर दिया गया है। नए मामलों के लिए पर्यटकों के एक समूह को जिम्मेदार ठहराया जा रहा है।

ये भी पढ़ें : लखनऊ : अब स्कूली बच्चों के अभिभावक ही खरीदेंगे यूनीफार्म व स्कूल बैग

रूस में कोविड-19 के डेल्टा वेरिएंट के सबवेरिएंट से जुड़े कई मामले चीन के उत्तरी और उत्तरी पश्चिमी प्रांत में सामने आए हैं। इस वेरिएंट को काफी खतरनाक बताया जा रहा है।

About Author

admin

You cannot copy content of this page